Bhadas For India

Uttarakhand Rojgar Samachar

नीट पेपर लीक मामले में कोचिंग संचालक गिरफ्तार

नीट पेपर लीक मामले में कोचिंग संचालक गिरफ्तार Neet paper LECK PATNA POLICE ARREST COCHING SANCHLAK

नीट पेपर लीक के मामले पर पुलिस ने कोचिंग संचालक को गिरफ्तार किया है पकड़ा गया कोचिंग संचालक ललित विजय एक साल पूर्व उत्तराखंड के हल्द्वानी पुलिस ने छापेमारी की थी पटना नीट के पेपर लीक की डील तीन करोड़ रुपये में हुई थी। इस मामले में पटना पुलिस ने शेखपुरा जिले के एक कोचिंग संचालक ललित विजय को हिरासत में लिया है। ललित को उसके रिश्तेदार लल्लू और छात्र चंदन सर के नाम से बुलाते हैं। हालांकि, एसएसपी मनु महाराज ने गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं की है।

शेखपुरा में ललित के पकड़े जाने के बाद चर्चा रही कि नीट के पेपर की डील तीन करोड़ रुपये में हुई थी। उसमें से ललित को सवा करोड़ रुपये मिलने वाले थे। सूत्रों की मानें तो पेपर लीक होने के बाद जालसाज प्रश्नों के जवाब उसे वाट्सएप करते। इसके बाद वह अभ्यर्थियों को भेजता। पुलिस ने उसके पास से कोचिंग और अभ्यर्थियों से जुड़े कागजात, कंप्यूटर, हार्ड-डिस्क जब्त की है।

NEET Paper 2017 Leaked

NEET Paper 2017 Leaked

पुलिस ने ग्राहक बनकर ललित को दबोचा। इस सिलसिले में गिरफ्तार लॉ छात्र अविनाश रोशन के मोबाइल से पुलिस ने ललित का नंबर निकाला। इसके बाद एक पुलिसकर्मी ने उससे ग्राहक बनकर नीट का पेपर मांगा। सूत्रों की मानें तो ललित ने 10 लाख रुपये की मांग की थी। पुलिस ने मोबाइल के टावर लोकेशन के आधार पर उसका ठिकाना ढूंढा।
बताया जा रहा है कि पटना में साथियों की गिरफ्तारी के बाद ललित मंगलवार की रात शेखपुरा से भागने की फिराक में था। हालांकि, पुलिस ने उसे शेखपुरा कलेक्ट्रेट के सामने सतबिगही इलाके में पकड़ लिया। शेखपुरा में उसकी कत्यायनी इंस्टीच्यूट के नाम से कोचिंग है। Get 15 August Speech In Hindi and Chief Guest of Independence Day 2018.

हल्द्वानी पुलिस कर चुकी है छापेमारी
मूलरूप से पंडारक थानान्तर्गत पुनारख गांव का रहने वाला ललित पिछले तीन सालों से शेखपुरा में कोचिंग चला रहा है। वहां के कोशुंभा गांव में उसका ननिहाल है। सूत्र बताते हैं कि दो साल पहले एनआइओएस की परीक्षा में धांधली करने के आरोप में ललित का रिश्तेदार गिरफ्तार होकर जेल गया था। बड़ी बात है कि पिछले वर्ष नीट पेपर लीक करने के मामले में भी उत्तराखंड की हल्द्वानी पुलिस ने शेखपुरा में छापेमारी की थी। बताया जाता है कि ललित के तार सरकारी नौकरी दिलाने का दावा करने वाले गिरोह से भी जुड़े हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright 2017 Media Solution Pvt. Limited Frontier Theme